Girlfriend ignore boyfriend status in hindi

girlfriend ignore, girlfriend ignore status, girlfriend ignore me, girlfriend ignore kare to kya kare, girlfriend ignore me status, girlfriend ignore boyfriend status in hindi, girlfriend ignored my birthday, girlfriend ignore boyfriend status, girlfriend ignore quotes, girlfriend ignore boyfriend quotes, girlfriend ignores me when she is upset, girlfriend ignore shayari, girlfriend ignored my text….

मुझे पता है मेरी दुआओं ने तुम्हें ठीक ही रखा होगा मगर यहां मैं ठीक नही हूं और जानता हूं कि मेरे ठीक न होने से तुम्हें फर्क नहीं पड़ेगा । क्योंकि वो मोहब्बत और वो तड़प अब तुम में नहीं रही… मैंने बहुत इंतज़ार किया इस बात का कि तुम पहले की तरह हो जाओगी मगर ये नहीं हुआ । मैं नहीं जानता कि इसकी वजह क्या है लेकिन इतना जानता हूं कि तुम्हारा मुझे नज़र अंदाज़ करना मुझे धीरे धीरे मार देगा । तुम्हें याद है वो दिन जब तुमने. कहा था कि समाज हमारे जिस्म को एक दूसरे से अलग कर सकता है लेकिन हमारी आत्मा हमेशा एक रहेगी । मगर यहां तो तुमने आत्मा को ही बांट दिया । वो भी वक्त था जब तुम मेरे लिये रात रात भर जागा करती थी मगर अब आलम ये है कि मैं तुम्हारी एक झलक देखने भर को तरस गया हूं ।

शायद तुम्हें याद हो लगभग दो साल पहले मैं रात के आठ बजे ठिठुरते हुए सड़क से मेसेज करता था तुम्हें… कभी बायां हाथ पॉकेट में तो कभी दायां, बड़ी ठण्ड थी उन दिनों… मैं ठीक से टाइप भी नहीं कर पा रहा था और तुम घर में बैठी मुझे रिप्लाई दिया करती थी । मैं रात-रात भर ठण्ड में छत की सीढ़ियों पर बैठा तुमसे बातें करता था … मैं रात भर जगा हूँ पहले तुम्हारे सोने के इंतज़ार में…

और आज तुम कितनी आसानी से कह देती हो
” बिजी हूँ ”

सोने से पहले तुम्हरा फेसबुक टाइमलाइन देखता हूँ ख़ुद-से बचाकर, तुम्हारी हर पोस्ट के कमेंट्स पढे हैं मैंने, आज भी मेरा हर व्हाट्सप्प स्टेटस सिर्फ तुम्हारे लिए लगता है और तुम हर बार उसे नजरअंदाज कर देगी देती हो. मुझे देख कर तुम्हारा ऑफलाइन हो जाना मेरे लिए बिल्कुल वैसा है जैसे पानी बिना तड़प रही मछली की झटपताहत होती साँसों के लिए ?

ये सब मुझे धीरे धीरे खत्म कर रहा है । मेरी आंखों का सारा पानी अब सूख चुका है । दिल के साथ साथ मेरा लहज़ा भी खुश्क होने लगा है । मुझे नहीं याद आखिरी बार मैं कब हंसा था, मेरी खुशियां मेरे चेहरे से अपना डेरा उठा चुकी हैं और उसकी जगह उदासियों ने लेली हैं । ये सब बस इसलिए है क्योंकि तुम अब वो नहीं रही जिसे मैंने बेपनाह प्यार किया था ।

याद रखना मेरे पास खोने को पहले भी कुछ नहीं था और तुम्हारे बाद भी कुछ नहीं रहेगा मगर याद रखना मैं नहीं रहा तो तुम वो खो दोगी जिसकी ख़वाहिश में लोगों की उम्रें बीत जाती हैं । कियोंकि जितना मैंने तुमको चाहा है उतना चाह लेना किसी और के बस की बात नहीं । मैं वजह नहीं जानता कि आखिर तुम ऐसी कैसे हो गयी लेकिन अब भी वक्त है तुम्हारे पास, इससे पहले कि मैं पूरी तरह से लाश हो जाऊं….

प्रेम समझौते नही करता । जो समझौता कर ले वो प्रेम नही कर सकता । मैने भी नही किया और मैं तुम पर थोप नही रहा की तुम समझौता करो । ज़िंदगी तुम्हारी है फैसला भी तुम्हारा होगा । हँसता हूँ मुस्कुराता हूँ बस इसी लिए की कोई उदासी की वजह जान कर मेरी हर बार लुट जाने वाली किस्मत पर तरस ना खाने लगे । तरस शब्द ही पसंद नही मुझे … तुम से भी नही । यही कहा था ना मैंने की अगर तुम खुद के लिए मुझे पाना चाहो तब ही कोई कोशिश करना ये सोच कर कोई कोशिश ना करना की मेरा हाल बेहाल है । मैं तो रोज़ रोज़ खुद में से खत्म हो ही रहा हूँ वैसे
भी हमेशा ज़िंदा रहना किसको है । तुम में चाह होगी तो तुम लौटा दोगी तुम्हारा वो प्यार जिसे तुम भूल रही हो और ना लौटा सकी तो मेरी टूटती साँसें तुम्हे भी माफ कर देंगी वैसे ही जैसे औरों को किया है…